Sukanya Samriddhi Yojana: बेटी की पढ़ाई से लेकर शादी के लिए मदद करेगी ये सरकारी स्कीम, 21 साल होने पर मिलेगा मोटा फंड

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

Sukanya Samriddhi Yojana: आज के समय में बच्चों की पढ़ाई में काफी पैसा खर्च होता है। कई पैरेंट्स ऐसे होते हैं जिनके पास अपने बच्चों को उच्च शिक्षा देने के लिए पर्याप्त पैसा नहीं होता है। इसी समस्या का समाधान करते हुए सरकार ने बच्चों के भविष्य के लिए कुछ सरकारी योजनाएं चलाई हैं। इनमें से एक लोकप्रिय स्कीम है ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ (Sukanya Samriddhi Yojana)। इस स्कीम के तहत आप अपनी बेटी के लिए एक खाता खोल सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) एक स्मॉल सेविंग स्कीम है, जिसमें केंद्र सरकार हर तीन महीने में ब्याज दर तय करती है। इस समय 8 फीसदी सालाना की दर से ब्याज मिल रहा है। बेटी के जन्म के तुरंत बाद सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खोलवाना शुरू करना बेहद समझदारीपूर्वक है। खाता की समयावधि 15 साल है, जिसमें आप बेटी के नाम पर निवेश कर सकते हैं। जब बेटी 21 साल की होती है, तो मैच्योरिटी की 50 फीसदी राशि निकाली जा सकती है। शेष राशि भी बेटी की आयु 21 साल होने पर निकाली जा सकती है।

यदि आप हर महीने 12500 रुपये का निवेश सुकन्या समृद्धि योजना में करते हैं, तो 1 साल में आपकी जमा राशि 1.5 लाख रुपये होगी। यदि ब्याज दर को 7.6 फीसदी माना जाए, तो मैच्योरिटी पर बेटी के लिए एक बड़ी राशि तैयार होगी। जब बेटी 21 साल की होती है, तो उसके खाते से निकालने पर राशि के रूप में 63,79,634 रुपये होंगे, जिसमें समयावधि के दौरान निवेश की गई राशि 22 लाख 50 हजार रुपये होंगे। इस तरह सुकन्या समृद्धि योजना में हर महीने 12500 रुपये के निवेश से बिटियां प्राप्त कर सकती हैं 64 लाख रुपये।

सुकन्या समृद्धि योजना के जरिए बेटियों को मिलने वाले लाभों के चलते यह योजना बेहद अच्छी तरह से प्रसिद्ध हो चुकी है और इसके माध्यम से बेटियों के भविष्य को सुरक्षित और समृद्ध बनाने की दिशा में सरकार का प्रयास जारी है।

PM kisan kyc कैसे करे, जाने पूरी जानकारी, बिना kyc नही मिलेगी किस्त

क्या आपके बैंक खाते में आए 2000 रुपये, यहां देखें लिस्ट (PM Kisan FTO Status)

सरकारी योजना: किसानों के लिए खुशियों का खजाना, 3 लाख रुपये का लाभ!

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment