प्रधानमंत्री किसान योजना: 2 करोड़ किसान हो सकते हैं 14वीं किस्त से वंचित, जानें, कारण और समाधान

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

प्रधानमंत्री किसान योजना (पीएम किसान योजना) भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है। इस योजना के अंतर्गत अब तक 13 किस्तें किसानों को मिल चुकी हैं, और इस माह में 14वीं किस्त भी अपेक्षित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जुलाई को सीकर में आयोजित कार्यक्रम में किसान सम्मान निधि की 14वीं किस्त का ट्रांसफर करेंगे।

लेकिन इस बार, पिछली बार की तुलना में बहुत ही कम किसानों को पीएम किसान योजना की 14वीं किस्त (14th installment of PM Kisan Yojana) प्राप्त होगी। इसके पीछे कारण यह है कि सरकार की ओर से बार-बार सूचना देने के बावजूद भी बहुत से किसानों ने इस योजना के तहत ई-केवाईसी (e-KYC) और आधार सीडिंग (Aadhaar Seeding) की प्रक्रिया को पूरा नहीं किया है। ऐसे में इस बार, पिछली बार की तुलना में बहुत कम किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) का लाभ मिल सकता है।

मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) से जुड़े हुए ऐसे किसानों की देशभर में संख्या 2 करोड़ है, जिन्होंने अभी तक ई-केवाईसी (E-KYC) और आधार सीडिंग (Aadhaar Seeding) का कार्य पूर्ण नहीं किया है। हालांकि ऐसे में किसानों के पास अभी भी वक्त है, वे पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 14वीं किस्त (14th Installment of PM Kisan Samman Nidhi Yojana) मिलने से पहले इस प्रक्रिया को पूरा करके इसका लाभ ले सकते हैं।

जानकारी के अनुसार यूपी में 56,91,331 किसान ऐसे हैं, जिन्होंने अभी तक ई-केवाईसी की प्रक्रिया पूरी नहीं की है। उनके बाद राजस्थान में 19,42,417 किसान ऐसे हैं, जिन्होंने भी यह प्रक्रिया पूरी नहीं की है। महाराष्ट्र में 18,02,436 किसान, बिहार में 14,92,646 किसान और गुजरात में 14,55,758 किसान इस सूची में शामिल हैं। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में 13,41,187, मध्य प्रदेश में 11,91,828, ओडिशा में 10,10,187, कर्नाटक में 10,00,666, और झारखंड में 5,43,507 ऐसे किसान हैं जिन्होंने अ

भी तक ई-केवाईसी की प्रक्रिया को पूरी नहीं किया है। केरल और पंजाब में भी कुछ किसान शामिल हैं जो ई-केवाईसी नहीं करवाए हैं। आंध्र प्रदेश में 5,03,716 किसान हैं, जो इस सूची में शामिल हैं।

ई-केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करने के लिए, किसानों को अपने नजदीकी सीएससी (Common Service Centre) पर जाना होगा। वहां से वे ई-केवाईसी की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें 15 रुपए का शुल्क देना होगा। आवश्यकता के अनुसार, वे अपने आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और बैंक पासबुक की कॉपी लेकर जाएंगे। बैंक में जाकर आधार सीडिंग की प्रक्रिया को पूरा कराने के लिए, किसानों को एक फॉर्म भरना होगा। उन्हें बैंक द्वारा दिए गए फॉर्म में अपनी जानकारी भरनी होगी और इसे वेरिफाई करवाना होगा।

यदि सभी जानकारी सही होती है, तो आधार सीडिंग हो जाएगी और आधार नंबर बैंक खाते से जोड़ दिया जाएगा। इस तरह, किसान अपना खाता आधार से लिंक करा सकते हैं।

इसलिए, सभी किसान भाई जिन्होंने अभी तक ई-केवाईसी और आधार सीडिंग की प्रक्रिया पूरी नहीं की है, वे जल्द से जल्द इसे पूरा करें। इससे आपको प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत मिलने वाली 14वीं किस्त मिल जाएगी और आपको योजना के लाभ का उठाने में मदद मिलेगी।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

PM kisan kyc कैसे करे, जाने पूरी जानकारी, बिना kyc नही मिलेगी किस्त

क्या आपके बैंक खाते में आए 2000 रुपये, यहां देखें लिस्ट (PM Kisan FTO Status)

सरकारी योजना: किसानों के लिए खुशियों का खजाना, 3 लाख रुपये का लाभ!

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment